State Bank of Mysore

Trusted Service

उधारकर्ताओं के लिए उचित व्यवहार संहिता

स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, उधारकर्ताओं के लिए उचित व्यवहार संहिता लागू किया है। इस संहिता की विशेषताएं इस प्रकार हैं :

1. प्रमुख घोषणाएं

  • हमारा बैंक, निम्नलिखितों के प्रति बचनबद्ध है :-
  • खुदरे उधार व्यवहार में, व्यावसायिकता, कुशलता, सौजन्यता, उद्यमोन्मुखता, अविलंब सेवा प्रदान करना
  • धर्म, जाति, लिंग, पीढी या इनमें से किसी का भेद्-भाव न करना
  • ऋणों के विपणन और विज्ञापनों में पारदर्शिता व ईमानदारी
  • ऋण व्यवहारों के संबंध में ग्राहकों को लागू शर्तें लागत, अधिकार तथा देयताओं के बार में सही सूचना तत्काल उपलब्ध करना
  • मांगे जाने पर ऋण संबंधी सूचना व सलाह ग्राहकों को प्रदान करना
  • संस्था में शिकायत निवारण कक्षों की स्थापना उसके माध्यम से ग्राहकों के विवादों को दूर करने हेतु प्रयास करना
  • सभी विनियामकों का कडाई से अनुपालन करना
  • ऋणों में संभाव्य जोखिमों के प्रति आम जागरुकता लाने और बैंक पर ही संपूर्ण निर्भर न रहकर स्वतंत्र रूप से सलाह प्राप्त करने हेतु ग्राहकों को प्रेरित करना।

टॉप


2. उचित व्यवहार प्रथा :
2.1 उत्पाद सूचना :-
क) एक प्रत्याशी ग्राहक को, बैंक में उपलब्ध सभी ऋण उत्पादों की विस्तृत एवं अपेक्षित जानकारी दी जाएगी।
ख) विकल्प के चयन पर ग्राहक को अपेक्षित ऋण उत्पाद की तत्संबंधित सूचना दी जाएगी।
ग) ग्राहक को ऋण की मंजूरी और वितरण संबंधी प्रक्रियाओं की विस्तृत जानकारी और हमारे बैंक में सामान्यतः प्रक्रिया पूर्ण होने के लिए लगनेवाली समय सीमा बतायी बतायी जाएगी।
घ) अपनी आवश्यकतानुसार ऋण लेने के लिए ग्राहक को शाखा तथा व्यक्तियों के नाम एवं दूरभाष संख्या की सूचना दी जाएगी।
च) ग्राहक के ऋण पर प्राप्त सेवा और खाता समाप्ति संबधी प्रक्रिया संबंधी सूचना दी जाएगी।

2.2 ब्याज दर :-
2.2.1 विभिन्न ऋण उत्पादों को लागू ब्याज दरों की सूचना, निम्नलिखितों के माध्यमों में से या किसी एक माध्यम के जरिए उपलब्ध करायी जाएगी :-
क) हमारे बैंक वेबसाईट से
ख) यदि टेली बैंकिंग सेवाएं है, तो दूरभाष के माध्यम से
ग) शाखाओं में प्रमुख प्रदर्शन जगहों पर और अन्य वितरण केद्रों द्वारा
घ) समय समय पर अन्य प्रचार माध्यमों द्वारा

2.2.2 ग्राहक, अपने खाताओं पर लागू ब्याज दरों के आवधिक अद्यतन सूचना प्राप्त करने का अधिकार रखते हैं।

2.2.3 मांग पर ग्राहक, ब्याज लागू करने की प्रक्रिया की संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकता है ।

2.3 ब्याज दरों में संशोधन
क) हमारा बैंक, वर्तमान ब्याज दर में हुए किसी भी संशोधन को तत्काल या शीघ्रातिशीघ्र सूचित करेगा और पैरा 2.2.1 में दर्शाये गये माध्यमों द्वारा ग्राहकों को उपलब्ध करायेगा।   
ख) संशोधन की तारीख से 3 दिनों के भीतर सभी ग्राहकों को संशोधित ब्याज दरों की सूचना दी जाएगी।

2.4 चूककर्ता ब्याज/दंडात्मक ब्याज
हमारा बैंक अपने प्रत्याशी ग्राहकों को चूककर्ता ब्याज/दंडात्मक ब्याज की स्पष्ट सूचना देता है।

2.5 प्रभार :
क) हमारा बैंक ग्राहक को उनके ऋण खाते से संबंधित देय सभी प्रभारों की सूचना प्रदान करेगा।
ख) पैरा 2.2.1 में सूचित सभी माध्यमों के जरिए हमारा बैंक  प्रत्याशी ग्राहक की सुविधा हेतु खुदरे उत्पादों के संबंध में प्रभारों की सूचना उपलब्ध कराएगा।
ग) पैरा 2.2.1 में सूचितों के माध्यम से प्रभारों में हुए संशोधनों को अग्रिम रूप में सूचित करेगा और इस माध्यम के द्वारा भी सूचित करेगा।
घ) जहां कहीं भी आवश्यक है, हमारा बैंक ब्याज एवं प्रभारों के लिए प्रभार खाते की स्पष्ट जानकारी देगा और दस्तावेजीकरण सहित कथित प्रभार खाते में नामे डालने के लिए आदेश प्राप्त करेगा।

2.6 उधार देने की शर्ते एवं निबंधने :
क) हमारा बैंक, सामान्यतः ऋण अनुरोध की प्राप्ति की रसीद देगा और ग्राहक अपने पसंद का उत्पाद या सेवा को खरीदने को निश्चय करने पर ग्राहक द्वारा मांगे जाने पर, प्राप्ति सूचना सहित आवेदन फार्म की एक प्रति भी देगा।
ख) ऋण मंजूरी के  निर्णय के तुरंत बाद, हमारा बैंक ग्राहक द्वारा निष्पादित किये जानेवाले दस्तावेजों का मसौदा दिखाएगा और ग्राहक द्वारा मांगे जाने पर, ऋण मंजूरी एवं वितरण से संबंधित शर्त एवं निबंधनों को बतलाएगा।
ग) ग्राहक द्वारा हस्ताक्षरित किये जानेवाले ऋण आवेदन फार्म, मसौदा दस्तावेज अथवा ऐसे अन्य कागजातों में, अपने पसंद के उत्पाद या सेवा के सभी शर्त एवं निबंधनें दिये जाएंगे।
घ) ऋण की अस्वीकृति के संदर्भ में ग्राहक को कारण बताया जाएगा।
ड.) ऋण वितरण से पहले और ऋण दस्तावेजों के निष्पादन के तत्काल बाद, हमारा बैंक, ग्राहक को उनके द्वारा निष्पादित दस्तावेजों की एक विधिवत् प्रति देगा।

2.7 लेखा पद्धति :
क) जब तक ग्राहक आवश्यक नहीं सम़झेंगे, बैंक खाताओं की नियमित सारणी उपलब्ध करायेगा।
ख) हमारा बैंक सहमत ब्याज, दंडात्मक ब्याज, चूककर्ता ब्याज और प्रभारों के अनुप्रयोग दिनांकों को अधिसूचित करेगा, अगर ऋण आवेदन, दस्तावेज अथवा पत्राचार में सूचित न किया गया हो।
ग) हमारा बैंक, लेखा नीति में होनेवाली कोई भी परिवर्तन को, यदि ग्राहक पर प्रभाव पडता हो, तो कार्यान्वयन से पूर्व अग्रिम रूप से ग्राहक को बता देगा।

2.8 सूचना की गोपनीयता :

  • क) ग्राहक के सभी वैयक्तिक सूचना गोपनीय रहेगी और ग्राहकों की सहमति के बिना तीसरी पार्टी को नहीं
  • बतायी जाएगी। `तीसरी पार्टी` शब्द में सभी विधिक एजेंसी, ऋण सूचना ब्यूरो, भारतीय रिजर्व बैंक, अन्य बैंक तथा वित्तीय संस्थाएं शामिल नहीं हैं।
  • ख) उक्त पैरा के शर्तों के अधीन ग्राहक सूचना को निम्न सूचित परिस्थितियों में मात्र खुलासा किया जाएगा जैसे कि :-
  • यदि विधि द्वारा बैंक से मांगे जाने पर
  • सूचना प्रकटीकरण सार्वजनिकों के हित में है तो
  • बैंक के हित में प्रकटीकरण अपेक्षित हो तो।

2.9 वित्तीय संकट :
क) हमारा बैंक ग्राहक के वित्तीय संकटों पर अनुकंपा से विचार करेगा।
ख) ग्राहक को अपनी वित्तीय संकट की सूचना शीघ्र देने के लिए प्रोत्साहित करेगा।
ग) हमारे बैंक के परिचालनीय स्टॉफ, ग्राहक के वित्तीय संकटों को सुनने और अपनी ओर से हर सम्भव सहायता के लिए प्रशिक्षित हैं।

2.10 शिकायतों का निवारण :
क) हमारे बैंक में शिकायत निवारण कक्ष/विभाग/केंद्र स्थापित है।
ख) हमारा बैंक सभी ब्यौरे उपलब्ध कराएगा, जैसे कि

  • शिकायत कहां करना है।
  • शिकायत कैसे करना है।
  • उत्तर की प्रत्याशा कब की जा सकती है
  • शिकायतों के निवारणों के लिए किनसे संपर्क करना, इसकी सूचना पैरा 2.2.1 में सूचित प्रचार माध्यमों से या वैयक्तिक रूप से दी जाती है।

ग) शिकायत के उत्तर सकारात्मक हो या नकारात्मक, तय्यों और आंकडों की
आवश्यकता में या निवारण के लिए अधिक समय की जरूरत हो, शिकायत दर्ज करने से चार हफ्तों की अधिकतम अवधि के अंतर्गत, उत्तर दिया जाएगा।

संभाव्य ग्राहकों के लिए सेवा प्रभार, जांच सूची
सभी प्रभार परिवर्तन के अधीन हैं।

ऋण संसाधन प्रभार
ए) नये अग्रिमों के लिए

निधि आधारित गैर निधि आधारित
रू.25,000/- तक शून्य शून्य
रू.25,000/- से अधिक से रू. 2.00 लाख तक रू.300/- रू.150/-
रू.2.00 लाख से अधिक रू.300/- प्रति लाख या भाग रू.150/- प्रति लाख या भाग
अधिकतम रू.6.00 लाख

बी) नवीकरण के लिए

निधि आधारित
गैर निधि आधारित
रू.25,000/- तक शून्य शून्य
>रू.25,000/- से अधिक से रू. 2.00 लाख तक

रू.150/-

रू.100/-

रू.2.00 लाख से अधिक

रू.150/- प्रति लाख या भाग

रू.100/- प्रति लाख या भाग

अधिकतम रू.6.00 लाख

सी) प्रारंभिक प्रभार

मीयादी ऋण

रू.2.00 लाख से अधिक मियादी ऋण के लिए 1.25%

डी) भुगतानपूर्व प्रभार

पूर्वसमाप्ति प्रभार (आवास ऋण हेतु)

E) कोई पूर्वसमाप्ति दंड नहीं लगया जाएगा यदि अपने ही संसाधनों से पूर्वसमाप्ति कर रहा हो जिसके लिए खाते की अवधि को ध्यान में न रखते हुए पर्याप्त सबूत, शाखा प्रबंधक के संतुष्टि के लिए उधारकर्ता द्वारा प्रस्तुत किया जाता है।

बी) अन्य मामलों के संदर्भ में, जहां ऐसे सबूत नहीं प्रस्तुत किये जाते हैं, अगर पुनर्भुगतान के आरंभ से 3 वर्षों के भीतर समाप्त किया जा रहा हो तो सामान्य समान मासिक किश्तों के अधिक पूर्वभुगतान राशि पर 2% दण्ड प्रभारित किया जाएगा।

पूर्वसमाप्ति प्रभार (कार ऋण के

पूर्वभुगतानित ऋण राशि का 2%)

पूर्वसमाप्ति प्रभार

(अन्य मीयादी ऋण के लिए)

E) रू.1.00 करोड से अधिक मीयादी ऋण के अवशिष्ट अवधि के लिए पूर्वभुगतानित राशि का 1.25%

बी) रू.1.00 करोड तक के मीयादी ऋण पुनर्भुगतान प्रभार लगाने से छूट प्राप्त है।

अधिक जानकारी के लिए
स्टेट बैंक ऑफ मैसूर की नजदीक की शाखा से संपर्क करें या
मुख्य प्रबंधक
स्टेट बैंक ऑफ मैसूर
वाणिज्यिक एवं संस्थागत बैंकिंग विभाग
प्रधान कार्यालय, केम्पेगौडा मार्ग, बेंगलूर- 560 254 भारत
दूरभाष-9180223531 से 22353909 तक
22353473 विस्तरण 378,22259759
फ्याक्स 91 80 22262361
ई मेल: This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it

पूर्वसमाप्ति प्रभार (आवास ऋण हेतु)

E) कोई पूर्वसमाप्ति दंड नहीं लगया जाएगा यदि अपने ही संसाधनों से पूर्वसमाप्ति कर रहा हो जिसके लिए खाते की अवधि को ध्यान में न रखते हुए पर्याप्त सबूत, शाखा प्रबंधक के संतुष्टि के लिए उधारकर्ता द्वारा प्रस्तुत किया जाता है।

बी) अन्य मामलों के संदर्भ में, जहां ऐसे सबूत नहीं प्रस्तुत किये जाते हैं, अगर पुनर्भुगतान के आरंभ से 3 वर्षों के भीतर समाप्त किया जा रहा हो तो सामान्य समान मासिक किश्तों के अधिक पूर्वभुगतान राशि पर 2% दण्ड प्रभारित किया जाएगा।

पूर्वसमाप्ति प्रभार (कार ऋण के

पूर्वभुगतानित ऋण राशि का 2%)

पूर्वसमाप्ति प्रभार

(अन्य मीयादी ऋण के लिए)

E) रू.1.00 करोड से अधिक मीयादी ऋण के अवशिष्ट अवधि के लिए पूर्वभुगतानित राशि का 1.25%

बी) रू.1.00 करोड तक के मीयादी ऋण पुनर्भुगतान प्रभार लगाने से छूट प्राप्त है।

 
You are here: होम अग्रिम वाणिज्यिक एवं संस्थात्मक बैंकिंग योजनाएं उधारकर्ताओं के लिए उचित व्यवहार संहिता